Rastriyshan

वर्चुअल मीटिंग में कोनरोवा ने ट्रैफिक समस्या पर उठाए अहम मुद्दे, शीघ्र समस्या हल करने की मांग

सुरेश चौरसिया

नोएडा। आज कोनरोवा नोएडा चैप्टर केU तत्वधान में नोएडा की ट्रैफिक व्यवस्था के संबंध में पुलिस प्रशासन के अधिकारियों के साथ वर्चुअल मीटिंग की गई। कोनरवा के अध्यक्ष पी एस जैन ने बैठक की शुरुआत करते हुए पुलिस प्रशासन की तरफ से उपस्थित डीसीपी ट्रैफिक गणेश शाह , टी आई आशुतोष सिंह, एवं आर के वशिष्ठ के साथ अन्य अधिकारियों का स्वागत किया। कोनरवा नोएडा चैप्टर के कन्वीनर ब्रिगेड. अशोक हाक द्वारा नोएडा शहर की यातायात व्यवस्था की कमियों की तरफ एवं सुधार करने के संबंध में अन्य उपस्थित सदस्यों के साथ विस्तार से चर्चा की, जो निम्न प्रकार है:-
1, महाराजा अग्रसेन मार्ग पर एलिवेटेड रोड पर भारी यातायात वाहनों का प्रवेश लो हाइट बैरियर लगाकर बंद करा जाए। एलिवेटेड रोड पर केवल हल्के एवं छोटे वाहनों का आवागमन रहे।
2, एलिवेटेड रोड से उतरने पर यूफ्लेक्स कंपनी सेक्टर 59 के पास बोतल नेक होने के कारण जाम लगा रहता है।
3, भारी यातायात वाहन एवं बसों आदि को नोएडा की मुख्य मार्गो पर ही जाने की अनुमति रहे (जैसे डीएससी रोड, फिल्म सिटी रोड एमपी वन, दो आदि )। प्रायः नोएडा में सेक्टरों के मध्य की सड़कों पर बसें एवं भारी यातायात वाहनो का आवागमन होता है।
4, नोएडा की सड़कों को जाम मुक्त करने के लिए नोएडा की यातायात व्यवस्था की समीक्षा के लिए एक कमेटी बनाई जाए जिसमे ट्रैफिक पुलिस, नोएडा अथॉरिटी एवं सामाजिक संगठनों के पदाधिकारी रहे।
5, पेट्रोल एवं डीज़ल की गाड़ियां जिनका रेजिस्ट्रेशन खत्म हो गया है वह सेक्टरों में एवं मार्गो के किनारे टूटी फूटी पड़ी है, इनको उठवा कर खत्म कराया जाये।
6, पुलिस चौकी एवं थानों के अंदर एवं बाहर चोरी की पकड़ी गई एवं एक्सीडेंटल गाड़ियां खड़ी हुई है, जिनकी वजह से उनके आसपास झाड़ी आदि हो गई हैं और काफी जगह भी घिरी हुई है और नोएडा की सुंदरता को भी प्रभावित करती है , इनका भी तुरन्त निस्तारण किया जाना चाहिए।
7, सेक्टर 62 से 12,22 एवं डी एस सी रोड एवं अन्य मार्गो पर ऑटो रिक्शा एवं बैटरी रिक्शा वालो ने जगह जगह चौराहों, टी पॉइंट, मार्किट आदि के किनारे खड़े करने के कारण काफी परेशानी होती है।
8, नोएडा में जगह -जगह सड़कों पर बसें खड़ी की जाती है जो रात को भी खड़ी होती हैं। उन्हीं बसों में कंडक्टर ड्राइवर सोते , नहाते हैं जिसके कारण दुर्घटना होने का अंदेशा बना रहता है। आसपास के निवासियों को परेशानी होती है और डर का माहौल रहता हैम कहीं किसी दिन कोई बड़ी घटना घट जाए।
9, नोएडा में चौराहों पर ऑटोमेटिक सेंसर सिस्टम लगाया जाना चाहिए जिससे यातायात व्यवस्था को सुचारू रूप से चलाया जा सके। कई बार देखा जाता है रेड लाइट पर जिस सड़क पर कोई भी वहां नहीं होता वहां की लाइट ग्रीन होती है और जिस सड़क पर वाहन होते हैं, वह रेडलाइट होने की वजह से कई मिनटों बेकार खड़े रहते हैं ।
10, शहर के बहुत सारे यू-टर्न गलत बने हैं और वहां पर रॉन्ग साइड ड्राइविंग होती है। उसको ठीक करने की आवश्यकता है और रॉन्ग साइड ड्राइविंग पर फाइंड के अलावा IPC 279 में एफ आई आर कराने की जरूरत ह
11, नोएडा ट्रैफिक पुलिस को हर साल 5 से 6 करोड का जुर्माना मिलता है जिसमें से आधा जुर्माना नोएडा में ट्रैफिक के कार्यों पर खर्च करने की जरूरत है। इससे संबंधित लखनऊ से इजाजत के लिए पत्र लिखा जाना चाहिए।

12, traffic police ko जोन में बांटकर हर टीआई को दो क्रेन देने की जरूरत है ताकि रोड पर खड़े होने वाली गाड़ियों पर कार्रवाई की जा सकेम
13, नोएडा प्राधिकरण सड़क पर कहीं भी अगर पार्किंग बनाती है तो इस संबंध में नोएडा ट्रैफिक पुलिस से परमिशन या कंसल्टेशन की जाए।

14, शहर में बहुत जगह अवैध कट बने हुए हैं उनको बंद करने की जरूरत है जैसे कि सेक्टर 59 मेट्रो स्टेशन के नीचे।
15, नोएडा, ग्रेटर नोएडा में बहुत जगह की FOB जरूरत है। इस संबंध में ट्रैफिक पुलिस दोनों प्राधिकरण को जगह चिन्हित करके पत्र लिखे ताकि वहां पर FOB बनाए जा सके।

16, सेक्टर 60 ,61 के चौराहे पर यू-टर्न के कारण काफी दिक्कत है उसको ठीक करने की जरूरत है और फ्री लेफ्टन बनाने की जरूरत है।

17, Wrong side ड्राइविंग को रोकने के लिए शहर में प्रचार प्रसार किया जाना चाहिए और जितने फाइन लगे उसके बारे में रोज जनता को बताना चाहिए।
18, सेक्टरों में निवासियों द्वारा अपने घरों के बाहर सड़क पर गलत तरीके से वाहन खड़े किए जाते हैं। जब उनसे ठीक प्रकार से खड़े करने के लिए कहा जाता है तो वह गलत व्यवहार करते हैं। इस सम्बंध में भी उचित कार्यवाही कराने की जरूरत है।
19, नोएडा में कई जगह पर छोटे यू टर्न बने हैं जिनके कारण बड़ी गाड़ियों को कई बार आगे पीछे करके जाना पड़ता है जिसके कारण जाम लगता है और परेशानी होती है, इनको ठीक कराया जाए ।
20, नोएडा की सभी रेड लाइटों का संचालन clockwise direction में कराया जाए और समय की अवधि कम की जाए।
21, डीएलएफ मॉल के पास शुक्रवार से इतवार तक बाहर सड़क पर गाड़ियां खड़ी होती हैं जिसके कारण आने जाने वालों और सेक्टर 17 के निवासियों को अत्यधिक परेशानी होती है।
22, ब्रह्मपुत्र मार्केट सेक्टर 29 एवं गोदावरी मार्केट सेक्टर 37 में ट्रैफिक की अत्यधिक समस्या है।
23, शहीद स्मारक sector 30 एवं 36 टी पॉइंट पर एक ब्लिंकर लाइट लगाने की अत्यधिक आवश्यकता है ।

बैठक में डॉ एम. के. अग्रवाल, कर्नल शशि वैद , राजीव गर्ग , एम एल शर्मा , मुकुल बाजपेई ,अमित गुप्ता ,श्रीमती विमलेश शर्मा, श्रीमती अनीता सिंह, हरीश वर्मा , विक्रम सेठी , श्री विष्णु, आदि उपस्थित रहे।
उपरोक्त विषयो पर डीसीपी गणेश शाह ने भी अवगत कराया कि नोएडा की यातायात व्यवस्था को सुधारने के लिए और उसे सुगम बनाने के लिए सभी सम्भव प्रयास किए जा रहे हैं। उन्होने इसके लिए आर डब्लू ए के अधिकारियों से मिलकर ट्रैफिक व्यवस्था को सुगम बनाने और सहयोग करने की बात कही।
उपरोक्त चर्चा के बाद कोनरवा ,अध्यक्ष पी एस जैन ने सभी उपस्थित अधिकारियों एवं सम्मानित सदस्यों का धन्यवाद एवं आभार प्रकट करते हुए बैठक समाप्त करने की कार्यवाही की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *