Rastriyshan

चौरसिया पान किसान यूनियन ने राज्यपाल से चौरसिया जाति के सभी उपवर्गों को अत्यंत पिछड़ा वर्ग में शामिल करने की मांग की

सुरेश चौरसिया

ललितपुर। राष्ट्रीय पान किसान यूनियन ने यूपी के राज्यपाल के नाम पाली जनपद ललितपुर को एक ज्ञापन देकर चौरसिया जाति के सभी उपजातियों का अति पिछड़ा वर्ग के 11प्रतिशत आरक्षण कि श्रेणी में रखने की मांग की है। बता दें कि उत्तरप्रदेश में चौरसिया, बरई, तमोली को 7 प्रतिशत वाली श्रेणी में डाल दिया है।
भारतीय किसान

यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष छोटे लाल चौरसिया ने बताया कि राज्यपाल, उत्तर प्रदेश के नाम उपजिलाधिकारी पाली जनपद ललितपुर ( उ . प्र . ) चौरसिया ( तमोली ) तथा उनकी उपजातियों ( 11 % ) आरक्षण वाली श्रेणी से अति पिछडा वर्ग श्रेणि में रखने हेतु ज्ञापन
चौरसिया , बरई , तमोली , की शेष उपजाति नाग , भारद्वाज , नागवंशी , कटियार , जैसवाल , बर्मा , मण्डल , भगत , मोदी , आदि को भी प्रस्तावित आरक्षण में शामिल करने की मांग की गई है ।

उन्होंने कहा कि इस समाज को अति सम्पन्न ( 7 % ) बाली श्रेणी पिछडा वर्ग से हटाकर 11 % ) वाली श्रेणी अति पिछडा वर्ग ( एस 0 सी 0 ) की श्रेणी में रखा जाये । निजी क्षेत्र की समस्त कम्पनियों एवं अन्य संस्थानो में भी पिछडा वर्ग आरक्षण लागू किया जाय । राजनीति में भी आरक्षण प्रदान किया जाये ।


उधर, बिहार सरकार में अपनी शासनादेश 22 .4 . 2015 द्वारा इस समाज को पिछड़ा वर्ग से हटाकर अत्यंत पिछड़ा वर्ग में शामिल कर दिया है जिसका लाभ समाज को मिल रहा है। छोटेलाल चौरसिया ने कहा कि उत्तर प्रदेश में यह लाभ चौरसिया जाति के उप वर्गों को भी मिले।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *