Rastriyshan

प्रमुख सचिव आलोक कुमार ने जिम्स का निरीक्षण एवं डायलिसिस ईकाई का किया लोकार्पण

सुरेश चौरसिया

  • प्रमुख सचिव, चिकित्सा शिक्षा विभाग द्वारा राजकीय आयुर्विज्ञान संस्थान का निरीक्षण एवं डायलिसिस इकाई का लोकापर्ण

नोएडा। आज प्रदेश सरकार के चिकित्सा शिक्षा विभाग के प्रमुख सचिव एवं राजकीय आयुर्विज्ञान संस्थान, ग्रेटर नोएडा के उपाध्यक्ष आलोक कुमार, आई0ए0एस0 द्वारा संस्थान का निरीक्षण किया गया। संस्थान के निदेशक डा0 (ब्रिगे0) डा0 राकेश गुप्ता ने पौधा भेंट कर प्रमुख सचिव का स्वागत किया। इसके बाद आलोक कुमार संस्थान के प्रशासनिक भवन में समस्त विभागाध्यक्षों से रूबरू हुए। प्रमुख सचिव आलोक कुमार के साथ निदेशक डा0 (ब्रिगे0) राकेश गुप्ता, मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डा0 सौरभ श्रीवास्तव, डीन डा0 रम्भा पाठक एवं वित्त अधिकारी पी0डी0 उपाध्याय के साथ संस्थान की भूमि, अुनरक्षण, नवीन विभाग व सेवाओं सम्बंधी विभिन्न समस्याओं एवं मुद्दों को लेकर एक लम्बी बैठक हुई। जिसके बाद आलोक कुमार द्वारा संस्थान के बेसमेंट में हो रही सीपेज का निरीक्षण कर मरम्मत के लिए शासन को अवगत कराये जाने का भरोसा दिलाया। किडनी एवं रक्त की समस्या से ग्रस्त रोगियों के लिए संस्थान में स्थापित की गई।

डायलिसिस इकाई का लोकापर्ण करने के बाद संकाय सदस्यों को सम्बोधित करते हुए प्रमुख सचिव आलोक कुमार ने कहा कि निदेशक डा0 (ब्रिगे0) राकेश गुप्ता के नेतृत्व में संस्थान ने पिछले 2 सालों में अभूतपूर्व तरक्की की है जिसमें संकाय सदस्यों व कर्मचारियों ने पूरे समर्पण के साथ सहयोग किया, जिसके परिणाम स्वरूप कोविड महामारी के दौरान पूरे उत्तर प्रदेश में कोविड से सबसे कम मौंते गौतमबुद्ध नगर जिले में दर्ज की गयीं। कोविड महामारी के दौरान हमारे संस्थान का प्रदेश ही नहीं पूरे देश में डंका बज रहा है। साथ ही प्रमुख सचिव ने सभी संकाय सदस्यों व कर्मचारियों से यही कर्मठता, जोश एवं उत्साह आगे भी बरकरार रखे जाने की आशा की।

संस्थान में उपलब्ध चिकित्सा सुविधाओं का अवलोकन करने के बाद उनसे संतुष्टि जाताते हुए प्रमुख सचिव ने गौतमबुद्ध विश्वविद्यालय स्थित संस्थान के एकेडमिक भवन का दौरा किया। उसके बाद विश्वविद्यायल परिसर स्थित संस्थान के काॅलेज भवन हेतु चिन्हित 56 एकड भूमि का भी निरीक्षण किया। निदेशक डा0 (ब्रिगे0) राकेश गुप्ता ने जानकारी दी कि प्रमुख सचिव महोदय ने काफी तल्लीनता के साथ संस्थान की समस्याओं को सुना व खुद देखा और शासन स्तर से उनके निराकरण के लिए कार्यवाही किये जाने का भरोसा दिया।

निरीक्षण के दौरान डा0 शिखा सेठ, डा0 सतेन्द्र कुमार, डा0 सुरेश बाबू, डा0 मनीषा सिंह, डा0 अजय गर्ग, डा0 नीमा अग्रवाल, डा0 सुजाया मुखोपाध्याय व डा0 शालिनी बहादुर आदि सहित समस्त संकाय सदस्य व कर्मचारी उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *