मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने किया चोरकारी पावर ग्रिड सब स्टेशन का उद्घाटन

  • संजीत मिश्रा
  • मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने इटखोरी स्थित चोरकारी पावर ग्रिड सब स्टेशन का किया उद्घाटन ।
  • मुख्यमंत्री ने जिले की 375 करोड़ रुपये की 82 योजनाओं का उद्घाटन तथा 92 करोड़ रुपये की 18 योजनाओं का शिलान्यास भी किया। लाभुकों के बीच परिसंपत्तियों का भी किया गया वितरण

इटखोरी (चतरा) । मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने शुक्रवार 1 अक्टूबर को चतरा जिला के इटखोरी प्रखंड में नवनिर्मित चोरकारी पावर ग्रिड सब स्टेशन का उद्घाटन किया। मुख्यमंत्री के साथ श्रम मंत्री सत्यानंद भोक्ता, स्थानीय सांसद सुनील कुमार सिंह, सिमरिया के विधायक किशुन कुमार दास, बरही विधायक उमाशंकर प्रसाद अकेला, बडकागांव विधायक अंबा प्रसाद के साथ ऊर्जा विभाग के प्रधान सचिव अविनाश कुमार, झारखंड ऊर्जा संचरण निगम लिमिटेड के प्रबंध निदेशक केके वर्मा एवं जिला प्रशासन के अधिकारी भी उद्घाटन कार्यक्रम में मौजूद थे।

चोरकारी पावर ग्रिड सब स्टेशन तथा ट्रांसमिशन लाइन के निर्माण में 189. 70 करोड रुपये की लागत आई है। ग्रिड सब स्टेशन के अलावा 108 किलोमीटर ट्रांसमिशन का निर्माण किया गया है। पावर ग्रिड सब स्टेशन के उद्घाटन कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री ने जिले की 375 करोड़ रुपये की 82 योजनाओं का उद्घाटन तथा 92 करोड़ रुपये की 18 योजनाओं का शिलान्यास भी किया। विभिन्न योजनाओं के लाभुकों के बीच परिसंपत्तियों का भी वितरण किया गया साथ ही अनुकम्पा के आधार पर युवकों को नौकरी हेतु नियुक्ति पत्र दिया गया ।

मुख्यमंत्री दोपहर करीब एक बजे हेलीकाप्टर से चोरकारी गांव पहुंचे। ग्रिड सब स्टेशन में उद्घाटन के शिलापट्ट का अनावरण करने के पश्चात मुख्यमंत्री ग्रिड ने ग्रिड के स्काडा रूम में जाकर विद्युत आपूर्ति का कंप्यूटराइज स्विच आन किया।ग्रिड सब स्टेशन का स्वीच आन होते ही चतरा जिला में चोरकारी पावर ग्रिड सबस्टेशन से विद्युत की निर्बाध आपूर्ति शुरू हो गई। ग्रिड सब स्टेशन का उद्घाटन करने के पश्चात मुख्यमंत्री ने ग्रिड के समीप ही बनाए गए सभा मंच से चतरा जिला में शिक्षा, सड़क, स्वास्थ्य, पेयजल, भवन, पथ निर्माण, स्वास्थ्य, परिवहन, नगर परिषद और जिला परिषद विभाग की करीब 375 करोड़ रुपये की 82 योजनाओं का उद्घाटन तथा जिला परिषद, पेयजल, भवन प्रमंडल, पथ निर्माण, स्वास्थ्य और परिवहन विभाग की 92 करोड़ रुपये की लागत से तैयार होने वाली 18 योजनाओं का सामूहिक रूप से शिलान्यास भी किया।

सभा मंच से ही मुख्यमंत्री ने विभिन्न योजनाओं के लाभुकों के बीच परिसंपत्तियों का भी वितरण किया। ग्रिड सब स्टेशन के उद्घाटन को लेकर पिछले एक सप्ताह से ऊर्जा विभाग एवं जिला प्रशासन के द्वारा तैयारियां की जा रही थीं। मुख्यमंत्री के आगमन को देखते हुए ग्रिड के आसपास की सड़कों को भी मरम्मत कर दुरुस्त किया गया। बारिश की वजह से गुरुवार की देर शाम तक मुख्यमंत्री के आगमन को लेकर असमंजस की स्थिति बनी हुई थी। लेकिन शुक्रवार को सुबह से ही इस क्षेत्र का आसमान साफ हो गया और धूप खिली रही।