Rastriyshan

किसान एकता संघ ने कैंडल मार्च निकालकर दी श्रद्धांजलि

R

सुरेश चौरसिया


नौएडा। मंगलवार को किसान एकता संघ के द्वारा ग्राम मोरना में हरियाणा के करनाल बसताड़ा टोल प्लाजा पर अपने हक की लड़ाई लड़ रहे अन्नदाताओं पर प्रशानिक अधिकारी के आदेश पर हरियाणा पुलिस के द्वारा की गई लाठी चार्ज में किसान सुशील काजल की हुई मृत्यु के विरोध में कैंडल मार्च निकालकर उन्हे श्रद्धांजलि दी और मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के इस्तीफे के साथ एसडीएम और किसानों को मारने का आदेश देने वाले अधिकारियों के खिलाफ धारा 302 के तहत केस दर्ज कर सख्त कार्यवाही की मांग की।
इस अवसर पर संगठन के राष्ट्रीय संरक्षक चौधरी बाली सिंह ने कहा की किसान आंदोलनकारी की मौत के लिए लाठीचार्च करने वाले डयूटी मजिस्ट्रेट व प्रदेश की भाजपा-जजपा सरकार जिम्मेदार है, जिसकी निष्पक्ष जांच हो।
इस अवसर पर महानगर अध्यक्ष कमल यादव ने कहा की किसान किसी भी कीमत पर अपनी खेती को बचाने की लड़ाई नही हारेंगे। चाहे कितनी ही शहादत क्यों न देनी पड़े किसान पीछे नही हटेंगे। किसान शांतिपूर्ण ढंग से अपनी खेती बाड़ी को बचाने का आंदोलन चला रहे हैं और सरकार जबरन किसानों से जमीन हथिया कर पूंजीपतियों के हवाले करने पर तुली है।
इस अवसर पर पप्पू प्रधान, धर्मपाल यादव, राजेंद्र चौहान, ललित अवाना, अर्जुन प्रजापति, राजेश अंबावता, अमित अवाना, अशोक शर्मा, अतुल यादव, मयंक सिंह, आदि मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *