दिल्ली की 3 खबरें, जरूर पढ़ें ….

  • एम्स के निदेशक को मिला लाल बहादुर शास्त्री राष्ट्रीय पुरस्कार

नई दिल्ली। भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) के निदेशक डॉ रणदीप गुलेरिया को उत्कृष्टता के लिए 22वां लाल बहादुर शास्त्री राष्ट्रीय पुरस्कार प्रदान किया। अपने निवास स्थान में आयोजित समारोह में उपराष्ट्रपति ने पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए कहा कि सार्वजनिक जीवन में उनके द्वारा निर्धारित नैतिकता के अनुकरणीय मानक हैं।
उपराष्ट्रपति ने कहा कि शास्त्री ने अपने कार्यों के लिए जवाबदेही ली, जो सार्वजनिक जीवन में एक बहुत ही दुर्लभ गुण है। इस संदर्भ में उपराष्ट्रपति ने सार्वजनिक जीवन में पारदर्शिता और जवाबदेही बनाए रखने की आवश्यकता पर बल दिया। उपराष्ट्रपति ने प्रतिष्ठित पुरस्कार से सम्मानित होने पर डॉ गुलेरिया को बधाई दी। उन्होंने कहा कि हाल के दिनों में महामारी के बारे में जागरूकता उत्पन्न करने में डॉ गुलेरिया की शानदार भूमिका न केवल लोगों के लिए आश्वस्त करने वाली रही है, बल्कि इसने हर उस व्यक्ति की घबराहट को भी शांत किया है, जिन्होंने उन्हें कोरोना से संबंधित विभिन्न पहलुओं पर कई मंचों पर बात करते, देखा या सुना है। उपराष्ट्रपति ने महामारी के दौरान निस्वार्थ सेवा करने के लिए देश भर के डॉक्टरों और नर्सों, तकनीशियनों, सुरक्षा कर्मियों, किसानों और स्वच्छता कर्मियों सहित अन्य अग्रिम पंक्ति के योद्धाओं की भी प्रशंसा की।

  • बदमाशों ने बाइक सवार युवक की गोली मारकर हत्या

नई दिल्ली। रोहिणी इलाके में बदमाशों ने भीड़ भाड़ भरे बाजार में बाइक सवार युवक की गोली मारकर हत्या कर दी। मृतक की पहचान 34 वर्षीय दीपक उर्फ राधे के रूप में हुई है। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल में रखवा दिया है व मामले की जांच शुरू कर दी है। राधे टिल्लू गैंग से जुड़ा हुआ था। उस पर कुख्यात बदमाश संदीप ढिल्लन को पुलिस की हिरासत से भगाने समेत पांच मुकदमे दर्ज थे।
जानकारी के अनुसार सोमवार की रात करीब साढ़े सात बजे सेक्टर 15 में रहने वाले राधे रोहिणी सेक्टर 16 स्थित बाजार में आया था। वह बाइक से पंजाबी ढाबा के पास पहुंचा था, तभी वहां आये हमलावरों ने उस पर दो राउंड फायरिंग की। गोली उसके सीने व पेट मे लगी। जिससे वह गम्भीर रूप से घायल होकर गिर पड़ा। इसके बाद भीड़ भाड़ का फायदा उठाकर हमलावर फरार हो गये। आस पास के लोगों ने घायल को अंबेडकर अस्पताल पहुंचया, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।

  • घाटों पर छठ न मनाने सरकार के निर्देश पर भड़के मनोज तिवारी

नई दिल्ली। भाजपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष व सांसद मनोज तिवारी अपनी छठयात्रा के तहत सोमवार की शाम भलस्वा डेरी पहुंचे और छठ पूजा समितियों के पदाधिकारियों के साथ रायशुमारी की।
उन्होंने घाटों पर छठ पर्व मनाने के दौरान कोविड के दिशानिर्देशों का पालन करने के लिए लोगों को 7 संकल्प भी दिलाया।
इस मौके पर आयोजित सभा में उन्होंने कहा कि छठ पूजा पूर्वांचल के लोगों के लिए विशेष महत्व रखता है। भगवान भास्कर की आराधना हमारे जीवन का आधार है। जिस पर लगा प्रतिबंध सीधे-सीधे हमारी आत्मा पर चोट है। दिल्ली में रहने वाले पूर्वांचल के लोगों की आस्था व उनके स्वाभिमान को खंडित करने का सीधा प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने आरोप लगाया कि घाटों पर छठ पर्व मनाने पर रोक लगाकर पूर्वांचल के लोगों के दिल्ली से पलायन के लिए मजबूर करने की साजिश रची जा रही है।