Rastriyshan

आज से बांटी जाएगी निःशुल्क खाद्यान्न वितरण

 5 से 15 अक्टूबर तक होगा निःशुल्क राशन का वितरण

नोएडा।  जिला पूर्ति अधिकारी गौतम बुद्ध नगर चमन शर्मा ने अंत्योदय तथा पात्र गृहस्थी राशन कार्ड धारकों का आह्वान करते हुए जानकारी दी है कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के लिए राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम 2013 के आच्छादित अन्त्योदय तथा पात्र गृहस्थी राशन कार्डो से सम्बद्ध यूनिटों पर माह जुलाई 2021 से नवम्बर 2021 के लिए 5 किलोग्राम प्रति यूनिट की मात्रानुसार निशुल्क खाद्यान्न वितरण कराया जाना है।

 उन्होंने यह भी बताया कि आवंटन माह अक्टूबर 2021 एवं नवम्बर 2021 के अन्तर्गत 3 किलोग्राम गेंहू एवं 2 किलोग्राम चावल के स्थान पर कुल 5 किलोग्राम गेंहू प्रति व्यक्ति प्रतिमाह की दर से 5 अक्टूबर से 15 अक्टूबर तक प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत निशुल्क उपलब्ध कराया जायेगा।

 राशन कार्ड धारकों को पोर्टेबिलिटी के अंतर्गत खाद्यान्न प्राप्त करने की सुविधा अनुमन्य रहेगी। पोर्टेबिलिटी चालान जनरेट दिनांक 11 अक्टूबर से 13 अक्टूबर 2021 के मध्य किये जाएंगे।

उन्होंने बताया कि खाद्यान्न वितरण की अंतिम तिथि 15 अक्टूबर 2021 होगी, जिस दिन आधार प्रमाणीकरण के माध्यम से खाद्यान्न प्राप्त न कर सकने वाले उपभोक्ताओं के लिए मोबाइल ओटीपी वेरीफिकेशन के माध्यम से वितरण संपन्न किया जायेगा।

 खाद्यान्न का निर्बाध रूप से वितरण सुनिश्चित कराने के लिए विक्रेताओं द्वारा प्रथम चक्र के वितरण के दौरान खाद्यान्न वितरण का कार्य प्रातः 6.00 बजे से रात्रि 9.00 बजे तक सुनिश्चित किया जाएगा।

 उन्होंने जन सामान्य एवं उचित दर विक्रेताओं का यह भी आह्वान किया कि उनके द्वारा वितरण के समय उचित दर दुकानों पर भीड़ नहीं लगाएंगे। उन्होंने समस्त उचित दर विक्रेताओं को निर्देश देते हुए कहा कि वह वितरण समाप्त होने तक अपनी उचित दर दुकान खुली रखेंगे एवं नोडल अधिकारी की उपस्थिति में वितरण करेंगे, यदि किसी भी उचित दर दुकानदार की घटतोली की शिकायत प्राप्त होती है तो, शिकायत की जांच में पुष्टि होने पर कठोर कार्यवाही अमल में लाई जाएगी। अतः राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा की सूची में सम्मिलित समस्त उपभोक्ता संबंधित उचित दर विक्रेताओं से अपनी-अपनी आवश्यक वस्तुएं प्राप्त करें और यदि कोई उचित दर विक्रेता आवश्यक वस्तु नहीं देता है, तो अपनी तहसील में संबंधित उप जिलाधिकारी, जिला पूर्ति अधिकारी एवं क्षेत्रीय खाद्य अधिकारी/पूर्ति निरीक्षक से शिकायत कर सकते हैं। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *